Take a fresh look at your lifestyle.

What is covid syndrome relationship how to make bond with family relatives

0


हाइलाइट्स

कोविड आने के बाद लोगों के बीच दूरियां काफी बढ़ने लगी थीं.
अब लोग फिर से रिश्तों की अहमियत समझने लगे हैं और साथ समय गुजारने लगे हैं.

Covid Syndrome Relationship: हम लोग आज से ठीक दो-ढाई साल पीछे जाएं तो पाएंगे कि हमारी जिंदगी बड़ी खुशनुमा थी. इसके साथ ही हम सभी रिश्तों को बराबर समय दे पाते थे. दूसरी ओर कोविड आने के साथ ही स्थितियां तेजी से बदलीं और हमारा रिश्तों को टाइम देना बंद हो गया. वहीं, अचानक ऐसा होने से सब के बीच जीवन में रिश्तों का खालीपन आ गया. किसी तरह से हमने ये दो साल काटे. दूसरी ओर, आज के समय में यह स्थिति बिल्कुल ही बदल चुकी है. अब सब पहले की तरह हो गया है, लेकिन आपने कभी ये सोचा है कि क्या आप ठीक तरह से अपने रिश्तों को टाइम दे पा रहे हैं? 

क्या है कोविड सिंड्रोम?
आज हम सभी बीते दो साल का समय छोड़कर आगे बढ़ चुके हैं. इस समय हमारे पास उत्साह, आत्मविश्वास, भावनाएं हैं. वहीं, बहुत से लोग अब नया रिश्ता बना रहे हैं या फिर पुराने रिश्तों को पुराने तरह से निभाने की कोशिश कर रहे हैं. आज हो सकता है कि हम भावनाओं में बह जाएं. कोविड के कारण जन्मी इन्हीं भावनाओं को कोविड सिंड्रोम का नाम दिया गया है. 

जरूरत से अधिक न हों प्रतिबद्ध
आज आप दो साल के बाद नए उत्साह के साथ काम कर रहे हैं. ऐसे में आप अतिउत्साह में कोई कमिटमेंट किसी की न करें, क्योंकि आप 2 सालों बाद अतिउत्साह की स्थिति में हैं. 

नए रिश्ते बनाने से बचें
आप इस दौरान अधिकाधिक नए रिश्ते न बनाएं, क्योंकि दो सालों से हमें इसकी आदत नहीं रही है. ऐसे में इससे बचें या फिर सोच-समझकर किसी से रिश्ता बनाएं, दोस्ती करें. 

रिश्तों को लेकर न पालें भय
बता दें कि इन 2 सालों में कई लोगों को अकेले रहने की आदत हो गई है. ऐसे में लोगों को लेकर पूर्वाग्रहों का निर्माण न करें. वहीं, उन्हें समझाने का प्रयत्न करें कि अभी रिश्ते खत्म नहीं हो गए हैं. इसके साथ ही अगर वह अकेले रहते हैं तो वह मानसिक रोंगो के शिकार हो सकते हैं.

इसे भी पढ़ें: वीकेंड मैरिज का बढ़ रहा है ट्रेंड, शादीशुदा कपल्‍स को खूब भा रहा ये तरीका, जानें इसके 4 फायदे

रिश्तों को बचाने के लिए न हों अधिक चिंतित
आप रिश्तों के बचाने को लेकर चिंतित न हों. इसके साथ ही उन्हें अपने लिए बोझ न समझें, क्योंकि इससे आप आत्मग्लानि महसूस करेंगे. 

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Lifestyle, Relationship


Leave A Reply

Your email address will not be published.