Take a fresh look at your lifestyle.

Mother’s Day 2023: क्यों मनाया जाता है मदर्स डे? क्या है वजह, जानें इसका इतिहास, महत्व और उद्देश्य

0


Mother’s Day 2023: हर वर्ष मई महीने के दूसरे रविवार को विश्व भर में मदर्स डे (Mother’s day) मनाया जाता है. मां को समर्पित ये दिन इस बार 14 मई को मनाया जाएगा. आखिरकार मां ही वो इंसान है, जो जन्म देने से लेकर हर सुख-दुख में अपने बच्चे के साथ हमेशा खड़ी रहती है. इसी वजह से मां की अहमियत को शब्दों में बयां कर पाना किसी के लिए भी आसान नहीं होता है.

वैसे तो किसी एक दिन को मां के नाम समर्पित करना, किसी के लिए भी काफी नहीं होता है. इसके बावजूद मां के प्रति अपनी कृतज्ञता व्यक्त करने के लिए इस दिन को सेलिब्रेट किया जाता है. तो आइए मदर्स डे के इस मौके पर हम आपको बताते हैं कि आखिर मातृत्व दिवस मनाने के पीछे की वजह क्या है और इसको कब से मनाया जा रहा है.

मदर्स डे का इतिहास
मातृत्व दिवस मनाने की शुरुआत अमेरिकन महिला एना जॉर्विस ने की थी. एना जॉर्विस ने मदर्स डे की नींव रखी, लेकिन मदर्स डे को मनाने की शुरुआत औपचारिक रूप से 9 मई 1914 को अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति वुड्रो विल्सन ने की थी. उस समय अमेरिकी संसद में कानून पास करके हर साल मई महीने के दूसरे संडे को मदर्स डे मनाने का फैसला लिया गया. तब से अमेरिका, यूरोप और भारत सहित कई देशों में मदर्स डे धूमधाम के साथ मनाया जाने लगा.

ये भी पढ़ें: सास-बहू की बॉन्डिंग बनानी हो स्ट्रांग, फॉलो करें 5 रिलेशनशिप टिप्स, कभी नहीं होगा आपस में मनमुटाव

मदर्स डे मनाने का उद्देश्य
अमेरिकन महिला एना जॉर्विस को अपनी मां से बहुत ज्यादा प्यार और लगाव था. एना अपनी मदर से बहुत इंस्पायर हुआ करतीं थीं और उन्होंने अपनी मां की मृत्यु के बाद शादी न करने का फैसला लिया था. एना ने अपना सारा जीवन अपनी मदर के नाम करने का संकल्प लिया और अपनी मां को सम्मान देने के उद्देश्य से मदर्स डे की शुरूआत की. इसके लिए एना ने इस तरह की तारीख चुनी कि वह उनकी मां की पुण्यतिथि 9 मई के आस-पास ही पड़े. यूरोप में इस दिन को मदरिंग संडे कहा जाता है, तो वहीं ईसाई समुदाय से जुड़े बहुत लोग इस दिन को वर्जिन मेरी के नाम से भी पुकारते हैं.

ये भी पढ़ें: शादी के बाद सता रही है मायके की याद, ट्राई करें 3 आसान तरीके, नहीं होगा फैमिली मेंबर्स से दूरी का अहसास

मदर्स डे का महत्व
वैसे तो हर कोई अपनी मां के महत्त्व को अच्छी तरीके से समझता है. लेकिन इस बात का अहसास मां को नहीं करवा पाता है. ऐसे में मां को उनकी अहमियत का अहसास करवाने और उनको स्पेशल फील करवाने के लिए मदर्स डे को सेलिब्रेट किया जाता है. भारत में हर कोई इस दिन को अपने अलग अंदाज में मनाने की कोशिश करता है. कुछ लोग मां को उनका फेवरेट तोहफा या ग्रीटिंग्स देकर मदर्स डे विश करते हैं. तो वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जो इस दिन मां को घर के कामों से छुट्टी देकर बाहर घुमाने भी ले जाते हैं. सोशल मीडिया पर भी मदर्स डे के सम्बन्ध में कई सारे कोट्स शेयर किए जाते हैं.

Tags: Lifestyle, Mothers Day Special, Relationship


Leave A Reply

Your email address will not be published.