Take a fresh look at your lifestyle.

Mahashivratri 2024 Wishes | आज पावन पर्व ‘महाशिवरात्रि 2024’ पर अपनों को भेजें ये शुभ संदेश, भक्तिमय होगी आपकी सुबह

0




1/5

नवभारत लाइफस्टाइल डेस्क: आज भगवान शिव (Lord Shiva) की आराधना का पावन पर्व महाशिवरात्रि 2024 है। शिवभक्तों के लिए यह दिन बेहद खास होने वाला है इसके लिए सच्चे मन से व्रत रखने के अलावा भगवान शिव की भक्ति में लीन रहेंगे। इस दिन की शुरूआत को और भी भक्तिमय और भोले बाबा के रंग में सजाने के लिए आप अपने रिश्तेदारों और करीबियों को शुभकामना संदेश भेज सकते है।

नवभारत लाइफस्टाइल डेस्क: आज भगवान शिव (Lord Shiva) की आराधना का पावन पर्व महाशिवरात्रि 2024 है। शिवभक्तों के लिए यह दिन बेहद खास होने वाला है इसके लिए सच्चे मन से व्रत रखने के अलावा भगवान शिव की भक्ति में लीन रहेंगे। इस दिन की शुरूआत को और भी भक्तिमय और भोले बाबा के रंग में सजाने के लिए आप अपने रिश्तेदारों और करीबियों को शुभकामना संदेश भेज सकते है।

2/5

महाशिवरात्रि के दिन भगवान शंकर की पूजा विधि विधान के साथ की जाती है ताकि उनकी विशेष कृपा आपको प्राप्त हो सके। यह त्योहार हर साल चंद्र माह की 13वीं या 14वीं रात को मनाया जाता है। इसे हिंदू धर्म में सबसे शुभ रातों में से एक माना जाता है।

महाशिवरात्रि के दिन भगवान शंकर की पूजा विधि विधान के साथ की जाती है ताकि उनकी विशेष कृपा आपको प्राप्त हो सके। यह त्योहार हर साल चंद्र माह की 13वीं या 14वीं रात को मनाया जाता है। इसे हिंदू धर्म में सबसे शुभ रातों में से एक माना जाता है।

3/5

पौराणिक कथाओं के अनुसार, भगवान शिव की भक्ति करते हुए माता पार्वती ने भगवान को जीवनसाथी के रूप में वरण करने के लिए कठिन तप किया था जिसके फलस्वरूप भोले बाबा का विवाह माता पार्वती के साथ संपन्न हुआ था। इस दिन को बेहद ही शुभ दिन माना जाता है।

पौराणिक कथाओं के अनुसार, भगवान शिव की भक्ति करते हुए माता पार्वती ने भगवान को जीवनसाथी के रूप में वरण करने के लिए कठिन तप किया था जिसके फलस्वरूप भोले बाबा का विवाह माता पार्वती के साथ संपन्न हुआ था। इस दिन को बेहद ही शुभ दिन माना जाता है।

4/5

कहते हैं,  जब भगवान शिव ने पार्वती से विवाह किया था, साथ ही उनके ‘तांडव’ प्रदर्शन, विनाश का उनका लौकिक नृत्य, जिससे नई रचना हुई थी। महाशिवरात्रि के दिन भगवान शंकर की पूजा अर्चन से जीवन में शांति, समृद्धि और सुख की प्राप्ति होती है।

कहते हैं, जब भगवान शिव ने पार्वती से विवाह किया था, साथ ही उनके ‘तांडव’ प्रदर्शन, विनाश का उनका लौकिक नृत्य, जिससे नई रचना हुई थी। महाशिवरात्रि के दिन भगवान शंकर की पूजा अर्चन से जीवन में शांति, समृद्धि और सुख की प्राप्ति होती है।

5/5

इस खास मौके पर आप अपने खास लोगों को सोशल मीडिया. वॉटसऐप या कॉल के साथ शुभकामनाएं भेज सकते है। इसके बाद भी आप पूजा शुरू कर सकते है।

इस खास मौके पर आप अपने खास लोगों को सोशल मीडिया. वॉटसऐप या कॉल के साथ शुभकामनाएं भेज सकते है। इसके बाद भी आप पूजा शुरू कर सकते है।




Leave A Reply

Your email address will not be published.