Take a fresh look at your lifestyle.

April Fool’s Day 2024 | आख़िर 1 अप्रैल को ही क्यों मनाते हैं मूर्ख दिवस, जानिए इसकी दिलचस्प वजह

0




April Fool Day 2024, April Month, Lifestyle News

आज है अप्रैल फूल दिवस (सोशल मीडिया)

Loading

सीमा कुमारी

नवभारत लाइफस्टाइल डेस्क: हर साल की तरह इस साल भी 1 अप्रैल के दिन पूरी दुनिया भर में ‘अप्रैल फूल डे’ (April Fool’s Day 2024) मनाया जा रहा है। आपको बता दें, कई देशों में तो इस दिन की छुट्टी भी होती है। ये एक ऐसा दिन है जब लोग एक-दूसरे के साथ मजाक करते हैं, उन्हें बेवकूफ बनाते हैं और फिर उनपर हंसते हैं।

कागज की मछली चिपकाने का रिवाज

दुनिया के अलग-अलग देशों में इस दिन को मनाने के अलग-अलग तरीके भी हैं। जैसे फ्रांस, इटली, बेल्जियम में लोगों के पीठ पर कागज की मछली चिपकाने का रिवाज है। इसे April Fish भी कहते हैं। किसी को बेवकूफ बताने का एक तरीका। लेकिन एक बात हर जगह समान है। वो है दूसरों को बेवकूफ बनाकर उनपर हंसना। ऐसा प्रचलन है कि इस दिन किए गए मजाक का कोई बुरा नहीं मानेगा। ऐसे में आज अप्रैल फूल डे के अवसर पर आइए जानें इस दिन से जुड़ी कुछ रौचक बातें

‘अप्रैल फूल डे’ का इतिहास

कई इतिहासकारों का मानना है कि 1582 में इसकी शुरुआत हुई थी, जब फ्रांस ग्रेगोरियन कैलेंडर से जूलियन कैलेंडर में बदल गया था। जूलियन कैलेंडर के अनुसार, नया साल 1 अप्रैल के आसपास शुरू होता है। इसलिए, कुछ लोग, जिन्हें कैलेंडर में बदलाव की खबर देर से मिली, वे मार्च के अंत में नए साल का जश्न मनाते रहे और इसके लिए उनका मजाक उड़ाया गया। नया साल 1 जनवरी तक चला गया था और जो इसे स्वीकार नहीं करते थे उन्हें ‘अप्रैल फूल’ कहा जाता था।

April Fool Day 2024, April Month, Lifestyle News
आज है अप्रैल फूल दिवस (सोशल मीडिया)

फ्रांस का रिवाज जानें

इसी के साथ फ़्रांस में, अप्रैल फ़ूल डे को ‘प्वाइसन डी एवरिल’ के रूप में जाना जाता है, जहां फ्रांसीसी बच्चे अपने दोस्तों की पीठ पर एक कागज़ की मछली चिपकाते हैं और जब प्रैंक करने वाले व्यक्ति को यह पता चलता है, तो उनका दोस्त ‘पोइसन डी’विल’ चिल्लाता है। 18वीं सदी के दौरान, अप्रैल फूल डे पूरे ब्रिटेन में फैल गया। स्कॉटलैंड में अप्रैल फूल्स डे दो दिनों तक चलता है, जहां शरारत करने वालों को गौक्स (कोयल पक्षी) कहा जाता है। अप्रैल फूल डे को ऑल फूल्स डे के रूप में भी जाना जाता है।

जानकारों के अनुसार, यह विशेष दिन मस्ती, आनंद और खुशी से भरा होता है। यह केवल चुटकुले साझा करने और अपने दोस्तों और प्रियजनों को प्रैंक करने के बारे में नहीं है बल्कि खुशियां फैलाना के लिए होता है। चुटकुले और हँसी साझा करने से पूरे वातावरण में खुशी और आनंद फैल जाता है। इस अवसर को दुश्मनों को और दोस्तों को करीब लाने के रूप में भी देखा जाता है।




Leave A Reply

Your email address will not be published.